तब दो देशों के बीच युद्ध जैसे थे हालात, बर्बरता की हदें पार कर दी पुलिस ने, 1990 की कारसेवा के अनुभव बताए रामकिशोर ने